पल्लू पुराण

कुलवधू

कुलवधू

बेवजह सास के ताने झेलती तान्या को जब देवर की शादी में घर जाना पड़ा, तो मुंहदिखाई के नेग की सोच कर परेशान थी। क्या उसने घर की कुलवधू होने का फर्ज...

हवनकुंड

हवनकुंड

पड़ोसी नवीन को काम वाली सुरमा के साथ डिस्को में देख कर मैं हैरान रह गयी। मैं तो सोच रही थी कि ऐसी काम वाली को रखना नहीं है, लेकिन सुरमा की बातों...

अपना घर

अपना घर

जिया ने जब अपनी पसंद के चंदेरी परदे लगाने चाहे, तो मायका हो या ससुराल, दोनों जगह उसे रोक दिया गया। क्या उसका अपने घर का सपना पूरा हो पाया?

प्यार के दो रूप

प्यार के दो रूप

मैं फागुनी के सामने बैठी हूं। लगभग 25 वर्षों के पश्चात आज मेरी परम प्रिय सखी फागुनी मिली। हमने हाई स्कूल और बीए एक संग किया था। यह वह उम्र होती...

डियर भाभीजान

डियर भाभीजान

सुप्रिया अपनी जेठानी उषा के प्यारभरे व्यवहार पर लट्टू थी। क्या उषा वाकई उसे प्यार करती थी या सुप्रिया के खिलाफ कुचक्र बुन रही थी?

जूठन

जूठन

सुमित्रा की तेजतर्रार सास को जूठन शब्द से नफरत क्यों थी? बहू तब दंग रह गयी, जब अम्मा जी ने उसकी इज्जत पर हमला करनेवाले अपने छोटे लाड़ले बेटे...

निरुत्तर

निरुत्तर

रत्ना मेधावी और समझदार थी, मगर 3 बहनों में सबसे बड़ी होने की वजह से उसकी शादी जल्दी तय कर दी गयी। क्या दहेज जुगाड़ने के बावजूद उसकी शादी हो पायी?

मोस्ट वॉन्टेड लव

मोस्ट वॉन्टेड लव

बहू काम पर जाए, बेटा घर के काम करे, यह चिराग की मम्मी सविता जी को फूटी अांख नहीं सुहाता था। चिराग और आशी ने आपसी समझदारी से यह फैसला किया था।...

शुक्रिया ज़िन्दगी

शुक्रिया ज़िन्दगी

मानसी को अपनी फ्रेंड रिद्धिमा से प्यार हो गया था। मानसी का होमोसेक्सुअल होना सबके लिए मुसीबत था, लेकिन क्या उसकी जिंदगी में सब कुछ आसान हो सका?

अपने अपने मेघदूत

अपने अपने मेघदूत

बॉयफ्रेंड के साथ घूमना, मूवी देखना ही सोनिका के लिए प्यार था। अपनी शांत गंभीर टीचर सौम्या पर खीजती सोनिका का सामना प्यार के किस अनूठे रूप से...

मासूम सवाल

मासूम सवाल

मासूम अर्णव ने अनन्या का दिल जीत लिया, लेकिन वह उसकी मां के बारे में जानने को बेताब थी। आखिर कौन थी अर्णव की मां और क्यों वह कभी नजर नहीं आती थी?

सोच

सोच

अवनि को उसकी जॉब करने वाली देवरानी निपट गंवार समझती थी, पर जब उसका असलियत से सामना हुआ, तो क्या गुल खिला?

शुद्ध देसी तकरार

शुद्ध देसी तकरार

पतिदेव की बेड पर गीला ताैलिया छोड़ देने की लापरवाह आदत से मैं इतनी परेशान थी कि पूछिए मत ! क्या इस सनातन झगड़े का कोई समाधान भी है !

भंवर

भंवर

नैनसी और आरव के प्रेम को नैनसी की मां की स्वीकृति आरव के विजातीय होने के कारण नहीं मिल रही थी। ऐसा कौन सा राज था, जिसकी वजह से कोई नैनसी को...

मैं तेरे प्यार में

मैं तेरे प्यार में

जिसे बचपन में दिल ही दिल में चाहा था, उससे यों मुलाकात होगी, सोचा ना था। आखिर परिमल की मुलाकात सुकू से किन हालात में हुई?

आडंबर

आडंबर

मां जब तक जीवित रहीं, उनके बेटों ने उनकी जिम्मेदारी से किस तरह मुंह मोड़ा, यह शांता अच्छी तरह जानती थी। फिर उनकी मृत्यु के बाद दान-पुण्य का यह...

क्या तेरा क्या मेरा

क्या तेरा क्या मेरा

ढोलक की थाप, अाशीर्वाद के गीतों से माहौल खुशनुमा हो रहा था। नाते-रिश्तेदारों की बातचीत हंसी के ठहाकों से सभी अानंदित थे, लेकिन सुप्रिया का मन...

प्यारा रिश्ता

प्यारा रिश्ता

अवनीश ने अपनी बेटी शिप्रा की शादी धनाढ्य परिवार के योग्य लड़के निमेष से तय की, पर उनकी मांगों से परेशान हो उठे। उन सबको किसने उबारा? ‘‘मधु...

शहर अपना सा

शहर अपना सा

छोटे शहरों में घर अौर दिल बड़े हुअा करते हैं, जबकि बड़े शहरों में कुछ भी बड़ा नहीं होता। ना दिल ना मकान। लक्ष्मी नगर की गली नंबर चार में जब मुझे...

सो स्वीट...

सो स्वीट...

श्रीमती जी की समृद्ध काया की तरह उनका मिष्ठान्न प्रेम भी कम ना था। मैं इधर अपनी जेब की फिक्र में दुबला हुअा जा रहा हूं, उधर वे मीठा खा-खा कर...

सुनहरे पल

सुनहरे पल

दस सालों के बाद कॉलेज के मित्र मन्नू से अन्नू की मुलाकात खास रही। मन्नू की प्रेरणा से उसके जीवन की दिशा ही बदल गयी, पर ये सुनहरे पल कहीं खो तो...

अंधेरों से अागे

अंधेरों से अागे

मासूम माला ने ऐसे गुनाह की सजा भुगती, जो उसने किया ही नहीं था। गैंग रेप की शिकार इस लड़की को क्या न्याय मिल पाया, क्या उसका जीवन सामान्य...

धूप छांव

धूप छांव

ससुराल में सबका बर्ताव निशि की समझ से परे था। गोपेश ने तो खुद उसे चुना था, उनके प्रेम पर संदेह कैसे किया जा सकता था। लेकिन यह राधिका कौन थी,...

प्रेम का रूपांतरण

 प्रेम का रूपांतरण

दिन ढल चुका था अौर जनवरी की वह सर्द शाम सुरमई होने लगी थी जब फोन की घंटी बज उठी थी। फोन पर लिली की अावाज सुनते ही मैं खुश हो गयी। लिली मेरे बचपन...

तुम्हारी तनुजा

 तुम्हारी तनुजा

वैवाहिक जीवन की एकरसता से बोर हो कर तनु साहिल की तरफ खिंचती चली गयी, फिर क्या अंजाम हुअा लव स्टोरी का... ‘‘तनु डार्लिंग कहां हो,’’ वॉशरूम में...

वो कहां गयी

वो कहां गयी

दादी की परी कथाएं सुन कर मीरा चमत्कारों की दुनिया से नाता जोड़ बैठी। बंद कमरे से अचानक वह क्यों और कहां गायब हो गयी?

Show more

Long Story
सारी सचाई आइने की तरफ साफ हो चुकी थी। शलभ का लाइफ सपोर्ट सिस्टम किसने बंद किया,...