टीवी के शांत बेटा-बहू की रियल लाइफ में अशांति क्यों
छोटे से टेलीविजन पर अमूमन हर शो में शादियों का सिलसिला चलता रहता है। शादियों को दिखाने का ऐसा ट्रेंड बन गया है कि कई बार तो एक ही कलाकार की कई शादियां होती दिखती है। शादी की चमक-धमक,डिजाइनर ड्रेस,ज्वेलरी,मेकअप में सुंदर दिख रहे हंसते-मुसकराते चेहरे को देख...
सौर ऊर्जा को अपनी कमाई का जरिया बना कर मिसाल बन गयीं कानपुर के एक गांव की ये साधारण महिलाएं
नूरजहां जहां सोलर लालटेन किराए पर दे कर घरों को रोशन कर रही हैं, वहीं गुड़िया सोलर मेकेनिक बन कर उसे संजोने का काम कर रही हैं। उनके घर के एकदम बगल में सोलर कम्युनिटी रेडियो स्टेशन है। कानपुर के मैथा ब्लॉक के गांव बैरी दरियाव में नूरजहां जैसी 41 महिलाएं हैं
मस्टरबेशन क्यों बुरा नहीं
अकेले हों या पार्टनर के साथ, मस्टरबेशन किस तरह से सेक्स संतुष्टि में सहायक है? समाज इसे क्यों नहीं स्वीकारता है, जानिए एक्सपर्ट्स की राय
लव यू पारोमिता (अंतिम भाग)
सारी सचाई आइने की तरफ साफ हो चुकी थी। शलभ का लाइफ सपोर्ट सिस्टम किसने बंद किया, यह भी पता चल चुका था। क्या अब पारोमिता को शलभ के प्यार पर यकीन हो पाएगा?
क्या होता है घर का ब्रह्मस्थान, इसे साफ-सुथरा रखने से होगा मंगल
भवन का ब्रह्मस्थान अगर साफ-सुथरा होगा, तो घर के हर काम में मंगल ही मंगल होगा। अगर भवन का ब्रह्मस्थान सही होता है, तो उस जगह पर हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा, लोग स्वस्थ रहेंगे और घर धनधान्य से भरा रहेगा।
जब कमर हो बेहद पतली, तो किस तरह के कपड़ों का करें चुनाव
कमर बेहद पतली हो, तो कुछ भी पहना हुआ आप पर नहीं फबेगा। पतली युवतियां क्या पहनें कि उन पर अच्छा लगे। क्या आपके साथ भी ऐसा होता है कि आप बड़े जतन से तैयार हो कर आईने के सामने खड़ी हुईं, लेकिन खुद को देख कर तसल्ली नहीं हुई और अफसोस भी हुआ कि काश मैं भी थोड़ी...
सेहत के भरपूर फायदों के कारण हॉट ट्रेंड बन चुकी है वीगन डाइट
आज सबसे ज्यादा लोगों को किसी बात की है, तो वह है सेहत। जब सेहत की बात आती है, डाइट की बातें सबसे पहले आती है। इनदिनों वीगन डाइट का बोलबाला है। हमारे यहां मेट्रोपॉलिटन शहरों में कुछ लोग इससे रूबरू हैं, तो कुछ इसको अपना चुके हैं और कुछ इससे बिलकुल अनजान हैं।
रीसेलिंग बिजनेस: घर के कंफर्ट में काम और बढ़िया दाम
आपकी जानपहचान में जरूर कोई ऐसी महिला जरूर होगी, जो आपके मैसेज बॉक्स को कपड़ों] ज्वेलरी] जूतों] हाउसहोल्ड आइटम्स की तसवीरों से भर देती होगी। इन्हें देख कर यह सवाल उठना लाजिमी है कि आखिर इस तरह के बिजनेस में कुछ कमाई होती भी है
प्री स्कूल के बच्चों को भी होती है टेंशन
बच्चे को आप लाड़-प्यार से पालते हैं, लेकिन जब आप उसे प्री स्कूल भेजते हैं, तब आप उसके साथ नहीं होते। यह उनके जीवन का बड़ा बदलाव है।
भारत की इन जगहों की होली नहीं देखी तो फिर क्या देखा
त्योहारों की क्या बात की जाए, हमारे देश का हर त्योहार अनूठा है। बात अगर होली की हो, तो कहना ही क्या। चलिए बताएं कुछ ऐसी जगहों के बारे में, जहां की होली पूरे विश्व में मशहूर है।
वेब सीरीज के कंटेंट में आया कंगाली का दौर
ओटीटी प्लेटफॉर्म पर नयी कहानियों का ट्रेंड शुरू हुआ था, जिसका स्वागत भी हुआ, पर कुछ सालों के बाद दर्शकों को नयी रिलीज भी बासी-बासी सी लगने लगी है।
एक था बचपन
क्या करूं प्रद्युम्न ठाकुर का चेहरा है कि नहीं भूलता। रेयान इंटरनेशनल स्कूल की दूसरी कक्षा के छात्र की हत्या के केस ने इंसानियत में विश्वास रखनेवाले हर व्यक्ति को हिला कर रख दिया।

ASTRO PREDICTIONS

{astro.sectionTitle}